India Vs Pakistan Asia Cup : कुलदीप यादव की जादुई गेंद में फंसे पाकिस्तानी बल्लेबाज, भारत ने पाकिस्तान को दी 228 रनों से शिकस्त

Amit Sengar
Updated on -

India Vs Pakistan Asia Cup : भारतीय टीम ने पाकिस्तान को 228 रनों से हराकर सबसे बड़ी जीत हासिल की है। वनडे इतिहास में रनों के लिहाज से भारत की पाकिस्तान पर यह सबसे बड़ी जीत है। कोलंबो के आर प्रेमदासा स्टेडियम में टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए भारतीय टीम ने 50 ओवर में दो विकेट पर 356 रन बनाए। जवाब में पाकिस्तान की टीम 32 ओवर में 128/8 रन ही बना सकी। टीम के दो बैटर इंजरी के कारण खेलने नहीं उतरे।

कोहली-राहुल ने जड़ा तूफ़ानी शतक

बता दें कि भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए विराट कोहली और लोकेश राहुल के शतक की बदौलत दो विकेट खोकर 356 रन बनाए। इसके जवाब में पाकिस्तान की टीम ने आठ विकेट पर 128 रन ही बना पाई और मैच 228 रन से हार गई। चोटिल हारिस रऊफ और नसीम शाह बल्लेबाजी के लिए नहीं आए। ऐसे में पाकिस्तान की टीम 32 ओवर में आठ विकेट पर 128 रन ही बना सकी।

कुलदीप यादव की चालाकी में बुरी तरह से फंस गए पाकिस्तानी बल्लेबाज

कुलदीप यादव ने भारत को सातवीं सफलता भी दिलाई। उन्होंने 30वें ओवर की चौथी गेंद पर इफ्तिखार अहमद को आउट कर दिया। इफ्तिखार का कैच उन्होंने खुद ही लिया। पाकिस्तान का यह बल्लेबाज 35 गेंद पर 23 रन बनाकर पवेलियन लौटा। पाकिस्तान ने 30 ओवर में सात विकेट पर 119 रन बनाए हैं। उसे जीत के लिए 20 ओवर में 238 रन बनाने हैं और उसके हाथ में सिर्फ तीन विकेट हैं।

पाकिस्तान को कब-कब बड़ी हार का सामना करना पड़ा

पाकिस्तान को अपने वनडे इतिहास में दूसरी सबसे बड़ी हार मिली। टीम को इससे पहले श्रीलंका ने 2009 में कराची के मैदान पर 234 रन से हराया था। पाकिस्तान वनडे में तीसरी बार ही 200 से ज्यादा रन के अंतर से हारा है। श्रीलंका और भारत के अलावा टीम को ऑस्ट्रेलिया ने 2002 में नैरोबी के मैदान पर 224 रन से हराया था।

यह है दोनों टीमों की प्लेइंग-11

भारत: रोहित शर्मा (कप्तान), शुभमन गिल, विराट कोहली, केएल राहुल, ईशान किशन (विकेटकीपर), हार्दिक पांड्या (उपकप्तान), रवींद्र जडेजा, शार्दुल ठाकुर, कुलदीप यादव, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद सिराज।

पाकिस्तान: बाबर आजम (कप्तान), शादाब खान (उपकप्तान), फखर जमान, इमाम उल हक, आगा सलमान, इफ्तिखार अहमद, मोहम्मद रिजवान (विकेटकीपर), फहीम अशरफ, नसीम शाह, शाहीन अफरीदी, हारिस रऊफ।


About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है। वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”

Other Latest News