Korea Open 2023: सात्विक-चिराग की जोड़ी ने रचा इतिहास, पहली बार जीता कोरिया ओपन का खिताब

Manisha Kumari Pandey
Published on -

Korea Open 2023: रविवार को आयोजित कोरिया ओपन सुपर 500 बैडमिंटन टूर्नामेंट मेंस फाइनल में भारत के सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी की जोड़ी ने जीत हासिल कर ली है। उन्होनें फ़जर अल्फियान (Fajar Alfian) और मोहम्मद रियाँ आर्दीयांतो (Muhammad Rian Ardinto) की इंडोनेशियाई शीर्ष वरीय जोड़ी को 17-21-21-13-21-14 से हराया।

बता दें कि पहली बार भारत ने कोरिया ओपन (पुरुष) बैडमिंटन में जीत हासिल की है। इससे पहले वर्ष 2017 में पीवी सिंधु ने कोरिया ओपन का खिताब अपने नाम किया था। इस साल सात्विक-चिराग की 5 मैचों में से तीसरी जीत है।जोड़ी को 33180 अमेरिकी डॉलर (करीब 27 लाख रुपये) का पुरस्कार राशि प्रदान की गई है।

फाइनल मुकाबले में बैडमिंटन जोड़ी का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा, लेकिन बाद में उन्होनें शानदार वापसी की। शनिवार को उन्होनें दुनिया की दूसरी नंबर जोड़ी वेई केंग और वांग चांग को हराकर फाइनल में प्रवेश किया। इससे पहले सात्विक-चिराग की जोड़ी इस साल स्विस ओपन, इंडोनेशिया ओपन और एशियाई चैम्पीयनशिप भी जीत चुकी है। इसके अलावा जोड़ी की यह दसवीं जीत है।

जीत के बाद सात्विक-चिराग की जोड़ी  2012 में रिलीज हुए “Gangam Style” गाने पर झूमने लगे। इनका वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है।

 

 


About Author
Manisha Kumari Pandey

Manisha Kumari Pandey

पत्रकारिता जनकल्याण का माध्यम है। एक पत्रकार का काम नई जानकारी को उजागर करना और उस जानकारी को एक संदर्भ में रखना है। ताकि उस जानकारी का इस्तेमाल मानव की स्थिति को सुधारने में हो सकें। देश और दुनिया धीरे–धीरे बदल रही है। आधुनिक जनसंपर्क का विस्तार भी हो रहा है। लेकिन एक पत्रकार का किरदार वैसा ही जैसे आजादी के पहले था। समाज के मुद्दों को समाज तक पहुंचाना। स्वयं के लाभ को न देख सेवा को प्राथमिकता देना यही पत्रकारिता है। अच्छी पत्रकारिता बेहतर दुनिया बनाने की क्षमता रखती है। इसलिए भारतीय संविधान में पत्रकारिता को चौथा स्तंभ बताया गया है। हेनरी ल्यूस ने कहा है, " प्रकाशन एक व्यवसाय है, लेकिन पत्रकारिता कभी व्यवसाय नहीं थी और आज भी नहीं है और न ही यह कोई पेशा है।" पत्रकारिता समाजसेवा है और मुझे गर्व है कि "मैं एक पत्रकार हूं।"

Other Latest News