भाजपा सांसद केपी यादव के विरोध में धरना

अशोकनगर। मध्य प्रदेश के अशोकनगर में सांसद केपी यादव और जिला कलेक्टर के बीच टकराव की स्थिति बन गई थी। भाजपा सांसद ने कलेक्टर  डॉ मंजू शर्मा के खिलाफ अभद्र टिप्पणी की थी जिसे लेकर अब स्थानीय लोगों ने उनके खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। महिला कांग्रेस ने आज सांसद के खिलाफ तुलसीपार्क  पर धरना दिया एवं प्रधानमंत्री के नाम ज्ञापन सौपा  जिसमे सांसद को बर्खास्त करने की मांग की है।

उल्लेखनीय है कि सोमवार को कलेक्ट्रेट के सामने क्लेक्टर को ज्ञापन देने की मांग को लेकर सड़क पर बैठे भाजपा सांसद डॉ. केपी यादव के बोल बिगड़ गये थे।उन्होंने महिला कलेक्टर डॉ.मंजू शर्मा को लेकर विवादित एवं अशोभनीय बयान दिया था।पूर्व सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के चरण चुम्बन की बात कही थी।इस बयान का आज महिला कोंग्रेस ने विरोध करते हुऐ धरना दिया।प्रधानमंत्री के नाम तहसीलदार को सौपे ज्ञापन में  में लिखा है कि सांसद यादव ने महिलाओ की अस्मिता को ठेस पहुचाई है।इसलिये उन्हें अपने पद से बर्खास्त किया जाये। धरने के दौरान महिलाओं ने सांसद  यादव से मांग की है कि वह महिला कलेक्टर सहित सम्पूर्ण नारी समाज से मांफी मांगे।

कलेक्टर को बुलाना सांसद की हठधर्मिता थी

धरना प्रदर्शन के दौरान कांग्रेस पार्टी के विधायक जजपाल सिंह जज्जी ने  भारतीय जनता पार्टी को प्रशासन द्वारा धरना प्रदर्शन को दी गई अनुमति की प्रति लहराते हुए बताया, कि प्रशासन ने 2 दिन पहले ही स्पष्ट उल्लेख किया था कि इस ज्ञापन को तहसीलदार के द्वारा लिया जाएगा। जिसकी प्रति पार्टी के जिला अध्यक्ष को दी गई थी।इसके बाद भी भाजपा सांसद द्वारा कलेक्टर को ज्ञापन की मांग के लिये सड़क पर बुलाने की मांग को हठधर्मिता बताया है।विधायक ने कहा कि अर्धनग्न खड़े युवाओं के बीच महिला कलेक्टर को ज्ञापन  लेने के लिये बुलाने मांग करने एवं उसके लिये सड़क पर प्रर्दशन करना घोर निंदनीय है।

"To get the latest news update download the app"