सहकारी बैंक का जीएम 50 हजार की रिश्वत लेते रंगेहाथों धराया

छतरपुर।

मध्यप्रदेश के छतरपुर जिले में लोकायुक्त ने बड़ी कार्रवाई की है। टीम ने यहां एक बैंक के जनरल मैनेजर को रिश्वत लेते रंगहाथों गिरफ्तार किया है। आरोप है कि मैनेजर संविदा कर्मचारी को परमानेंट करने के एवज में रिश्वत मांग रहा था। 

जानकारी के मुताबिक, कुछ दिन पहले संविदा कर्मचारी संतोष कुशवाहा ने सागर लोकायुक्त से शिकायत की थी कि सहकारी बैंक के महाप्रबंधक एजेएस ठाकुर ने उसे परमानेंट करने के लिए  एक लाख रुपए की रिश्वत मांगी थी। इस पूरे मामले की जांच कर टीम ने एक योजना बनाई और संतोष को मैनेजर के पास रिश्वत की पहली किश्त पचास हजार रुपये लेकर भेजा। संतोष पैसे लेकर बैंक पहुंचा और जैसे ही उसने मैनेजर को पैसे दिए, पीछे से लोकायुक्त ने उसे धर दबोचा। टीम ने जब मैनेजर के हाथ धुलवाए तो वो गुलाबी हो गए।लोकायुक्त द्वारा बैंक के जनरल मैनेजर ठाकुर के खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम की विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज किया गया।

"To get the latest news update download tha app"