कांटेक्ट लेंस पहनने वालों के लिए बेहद जरूरी होता है इन नियम कायदों को ध्यान में रखना

हेल्थ, डेस्क रिपोर्ट। कॉन्टैक्ट लेंस पहनने वालों के लिए संक्रमण का सबसे बड़ा जोखिम कॉन्टैक्ट लेंस के अनुचित उपयोग और रख रखाव से आता है। कॉन्टैक्ट लेंस सुविधाजनक, आरामदायक और उपयोग में आसान हैं, लेकिन यह न भूलने कि यह चिकित्सा उपकरण हैं जिन्हें सावधानीपूर्वक उपयोग और संग्रहीत करने की आवश्यकता होती है। ताकि यह बैक्टीरिया, गंदगी और कीटाणुओं से मुक्त रहे।

यह भी पढ़ें – YouTube को इस्तेमाल करने का बदला तरीका, लॉन्च हुए न्यू फीचर्स

आपको यह जानकर हैरानी होगी कि यू.एस. में केवल एक वर्ष में कॉन्टैक्ट लेंस के दुरुपयोग के कारण आंखों में संक्रमण के लगभग दस लाख मामले सामने आए है। इसके दुरुपयोग कई कारणों से हो सकता है। जिसमें आपके लेंस को बहुत लंबे समय तक पहनना, निर्धारित शेड्यूल का पालन न करना, लेंस पहन कर सोना और अपने लेंस को ठीक से साफ न करना शामिल है। रोग नियंत्रण केंद्र की रिपोर्ट कहती है कि 99% कॉन्टैक्ट लेंस पहनने वालों ने अपने लेंस को खराब तरीके से पहना, धोया या संग्रहीत किया है। यदि आपके पास खराब संपर्क लेंस की आदतें हैं, तो यह बदलने का समय है, और उन नियमों का पालन करें जिन्हें हमने आपके लिए रेखांकित किया है।

यह भी पढ़ें – कार्तिक आर्यन की भूल भुलैया 2 को मिला ये बड़ा खिताब

कॉन्टैक्ट लेंस लगाते और पहनते समय निम्न कार्य करें:

  • अपने लेंस को संभालने या अपनी आंख को छूने से पहले हमेशा अपने हाथों को अच्छी तरह धो लें। गैर-कॉस्मेटिक (तेल और सुगंध मुक्त) साबुन का प्रयोग करें, और अपने हाथों को लिंट-फ्री कपड़े या टिश्यू से सुखाएं।
  • अपने आईकेयर प्रैक्टिशनर के बताए अनुसार हटाने के बाद अपने लेंस को साफ करें। केवल अनुशंसित समाधानों का उपयोग करें।
  • सप्ताह में कम से कम एक बार अपने लेंस स्टोरेज केस को गर्म साबुन के पानी से साफ करें।
    अपने लेंस को संभालते समय, एक साफ सपाट सतह पर काम करें। सिंक के ऊपर काम करते समय प्लग को सिंक में रखें।
  • यदि आप लेंस निकालते हैं, तो पुन: उयपयोग से पहले साफ करें।
  • अच्छे ब्लिंकिंग के महत्व को याद रखें। नियमित और पूरी तरह से पलक झपकने से आपको लेंस को नम और साफ रखने में मदद मिलेगी।

यह भी पढ़ें – ब्रेकअप से अब तक उबर नहीं पाए हैं? यह 3 टिप्स कर सकते हैं आपकी मदद, बदल सकते हैं ज़िंदगी

  • यदि आप किसी अस्पष्टीकृत लाली, लगातार दर्द, बेचैनी, दृष्टि में परिवर्तन, अत्यधिक फाड़, प्रकाश संवेदनशीलता या
  • असामान्य आंखों के स्राव का अनुभव करते हैं, तो अपने नेत्र चिकित्सक से परामर्श करें।
  • यदि संभव हो तो अपने स्टोरेज केस और सॉल्यूशन को हर समय अपने साथ रखें।
  • अपने चश्मे को हमेशा अप टू डेट रखें ताकि यदि आप लेंस खो देते हैं या वह टूट जाते हैं। तो आप उनका उपयोग कर सकते हैं।
  • अपने लेंस पहनते समय कॉस्मेटिक्स या एरोसोल स्प्रे जैसे हेयरस्प्रे का उपयोग करते समय सावधानी बरतें या अपनी आँखें बंद कर लें। ऐसे उत्पाद लेंस पर एक अवशिष्ट फिल्म छोड़ सकते हैं।
  • कॉन्टैक्ट लेंस के साथ तैरते समय स्विमिंग गॉगल्स का इस्तेमाल करें।
  • यदि आप ऐसी किसी भी स्थिति में हैं जहां धूल, रेत का कण या अन्य विदेशी पदार्थ आपकी आंखों में प्रवेश कर सकते हैं, जैसे कि बाइक चलाना, बागवानी करना, सैंडिंग या पीसना, या धूल भरे वातावरण में काम करना, तो सुरक्षात्मक चश्मा या काले चश्मे पहनें।

यह भी पढ़ें – Mandi bhav: 22 मई 2022 के Today’s Mandi Bhav के लिए पढ़े सबसे विश्वसनीय खबर

  • यदि आप ऐसी स्थिति में हैं जहां आपकी आंख में कोई चीज प्रवेश कर गयी है तो अपने लेंस को साफ करें और बदलें। यदि आप सुनिश्चित नहीं हैं कि वह आपके आँखों से निकल गया है, तो अपने नेत्र चिकित्सक से संपर्क करें।

अपने कॉन्टैक्ट लेंस के साथ यह कार्य करें:

  • यदि आप अस्वस्थ हैं तो अपने लेंस नहीं पहने।
  • यदि आपकी आंखें असहज या असामान्य रूप से लाल हैं तो अपना लेंस नहीं पहने।
  • सफाई या गीला करने के लिए अपने मुंह में लेंस नहीं लगाएं।
  • अपने लेंस को भिगोने या साफ़ करने के लिए नल के पानी का प्रयोग नहीं करें।
  • लेंस पहनते समय अपनी आंखों को जोर से नहीं रगड़ें।
  • अपने लेंस को ठंडे जगह पर रखें।

यह भी पढ़ें – क्या आपने कभी किया है गर्मियों में छाछ के साथ गुड़ का सेवन

कॉन्टैक्ट लेंस के साथ मेकअप के उपयोग में क्या करें और क्या न करें

करें (DO)

  • लेंस लगाने के बाद कॉस्मेटिक्स लगाएं।
  • आंखों का मेकअप कम से कम करें और ध्यान रखें कि लेंस के खराब होने या क्षतिग्रस्त होने का जोखिम न हो।
  • आंखों का मेकअप केवल बाहरी लिड मार्जिन पर लगाएं, अंदर से नहीं।
  • मेकअप हटाने से पहले लेंस हटा दें।
  • ऑयल-फ्री हाइपो-एलर्जेनिक रिमूवर से रोजाना सारा मेकअप हटा दें।
  • अगर आपके लेंस पर कोई मेकअप हो जाता है तो तुरंत साफ करें।
  • खों के मेकअप का प्रयोग करें जिसमे तेल और सुगंध नहीं हो।
  • काजल नहीं लगाएं।

यह भी पढ़ें – भूल भुलैया 2: रूह बाबा बनकर कार्तिक आर्यन ने जीता दर्शकों का दिल, जानें पहले दिन कितने करोड़ कमाए

  • संदूषण से बचने के लिए हर तीन से छह महीने में मस्कारा और आईलाइनर उत्पादों को बदलें।
  • यदि कोई लालिमा, सूजन दर्द या जलन होती है, तो अपने आईकेयर प्रैक्टिशनर से परामर्श लें।
  • अगर आपकी आंखें लाल या सूजी हुई हैं या आंखों में संक्रमण है तो कॉस्मेटिक्स नहीं लगाएं।
  • मेकअप को अपने लेंस के संपर्क में नहीं आने दें।
  • मेकअप एप्लीकेटर को लुब्रिकेट करने के लिए पानी या लार का इस्तेमाल नहीं करें। इससे संक्रमण हो सकता है।
  • अपनी पलक के अंदरूनी हिस्से पर आईलाइनर नहीं लगाएं।
  • ऑयल बेस्ड रिमूवर का इस्तेमाल नहीं करें।
  • सौंदर्य प्रसाधन साझा नहीं करें।
  • सौंदर्य प्रसाधनों को गर्म नहीं करें अपने स्किन से उतारने के लिए।

Disclaimer: यह जानकारी इंटरनेट से प्राप्त सामान्य ज्ञान के लिए है। यदि आप भी लेंस लगते हैं तो डॉ. से उचित परामर्श लें।