भाजपा विधायक ने विधान सभा में ध्यान आकर्षण पत्र लगाकर डीएफओ पर लगाए भ्रष्टाचार के आरोप

पिछले दो साल में कई अनियमितताऐं व भ्रष्टाचार किये गए है

मुरैना,डेस्क रिपोर्ट। जिले के वन विभाग में पदस्थ डीएफओ अमित निकम के द्वारा किये जा रहे भ्रष्टाचार को लेकर जौरा के भाजपा विधायक सूबेदार सिंह रजौधा ने उनके खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। जिसमें उन्होंने सख्त से सख्त कार्रवाई करने की मांग भी की है।

यह भी पढ़े… श्रद्धांजलि और सियासत: सिंधिया ने किया रानी लक्ष्मीबाई को नमन तो भड़की कांग्रेस, छिड़का गंगाजल

हम आपको बता दें कि बीजेपी एमएलए रजौधा ने डीएफओ के खिलाफ विधान सभा में ध्यानाकर्षण पत्र लगाकर उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग की है। साथ ही उस पत्र में उनके द्वारा किए जा रहे भ्रष्टाचार की पोल खोली है जिसमें उन्होंने बताया कि वन विभाग की शनिश्चरा व मथई बीट में भारी मात्रा में अवैध पत्थर की हजारों घनमीटर खुदाई कर ली गई है तथा आज भी होने की कहा है। इस खनन से वहां बहुत गहरे गड्‌ढे हो गए जिन्हें डीएफओ ने जेसीबी मशीन से मलबा डालकर उन गड्ढ़ों को भरवा दिया गया है।

यह भी पढ़े…डबरा : लोकायुक्त ने सात हजार की रिश्वत लेते सहायक सचिव को रंगे हाथों पकड़ा

आगे उन्होंने अपने पत्र में बताया है कि बानमोर स्थित कैलादेनी स्टोन फैक्ट्री की जांच डीएफओ मुरैना द्वारा कराई गई थी। उस जाँच में उन्होंने पत्थर के 33 ब्लॉक की जानकारी दी गई थी। बाद में जब विभाग के अपर प्रधान मुख्य वन संरक्षक ग्वालियर की टीम ने फैक्ट्री पर छापा मारा तो वहां अवैध पत्थर के 260 ब्लॉक रखे मिले। इस बात से ऐसा लगता है कि डीएफओ मुरैना के द्वारा मोटी रकम लेकर उस फैक्ट्री को जाँच में बचाने की कोशिश की जा रही है।

यह भी पढ़े…MP Corona: 15-18 वर्षीय बच्चों के वैक्सीनेशन के लिए गाइड लाइन जारी, CM Shivraj के प्रमुख निर्देश

दरअसल, डीएफओ ने पिछले दो साल में कई अनियमितताऐं व भ्रष्टाचार किये गए है जिसमें कर्मचारियों का कार्य आवंटन से लेकर स्थानान्तरण तक भी किए गए हैं। इस तरह के सभी स्थानान्तरण मप्र शासन भोपाल की नीति के विरुद्ध हैं। उन्होंने विधानसभा को यह भी जानकारी दी कि इन स्थानान्तरणों पर मुख्य वन संरक्षक भोपाल के द्वारा डीएफओ के इस तरह के आदेशों पर कार्रवाई भी की गई है। उन्होंने तत्काल रूप से मांग की है कि मुरैना डीएफओ के आवक-जावक रजिस्टर एवं स्थापना प्रभारी के रिकार्डों चेक किया जाए साथ ही उनकी जांच भी कराई जाए।

यह भी पढ़े…MP में अभी नहीं होंगे पंचायत चुनाव, आयोग का ऐलान, उम्मीदवारों को वापस होगी जमानत राशि

जौरा बीजेपी विधायक सूबेदार सिंह रजौधा ने बताया कि डीएफओ अमित निकम द्वारा लगातार भ्रष्टाचार किया जा रहा है। इनके द्वारा की गई कई अनियमितताऐं व भ्रष्टाचार के मामले सामने आए हैं। इसलिए हमारे द्वारा कार्रवाई की मांग की गई है।